शरीफा खाने के फायदे और नुकसान

Sharifa Ke Fayde Aur Nuksan | शरीफा खाने के फायदे और नुकसान

Custard apple benefits in Hindi : शरीफा (सीताफल) में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जिसकारण इसका उपयोग इम्युनिटी बढ़ाने, कब्ज दूर करने, हृदय स्वास्थ्य में सुधार लाने आदि में किया जा सकता है। हालांकि, इसका अधिक सेवन स्वास्थ के लिए हानिकारक (शरीफा के नुकसान) भी हो सकता है। इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको शरीफा के फायदे और नुकसान (Sharifa Ke Fayde Aur Nuksan) के बारे में बता रहे हैं, और साथ ही शरीफा खाने का तरीका भी बता रहे हैं।

चलिए अब इस पोस्ट को शुरू करते हैं।

शरीफा (सीताफल) क्या है? | What Is Custard Apple (Sitafal)

शरीफा, जिसे अंग्रेजी में ” कस्टर्ड एप्पल” के नाम से जाना जाता है, यह एक सुगंधित और स्‍वादिष्‍ट फल है। इसके अलावा शरीफा को सीताफल भी कहते हैं।

शरीफा खाने में नरम और मलाईदार होता है जो कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जिसमें फाइबर, विटामिन C, एंटीऑक्सिडेंट, मैग्नीशियम, पोटेशियम और फॉस्फोरस प्रमुख हैं। (1)

शरीफा में नारंगी (Orange) की तुलना में अधिक विटामिन सी पाया जाता है।

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) त्वचा और बालों को अच्छी तरह से पोषण देता है, और साथ ही उन्हें स्वस्थ भी बनाए रखता है। शरीफा उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर सकता है और झुर्रियों के विकास में देरी ला सकता है।

शरीफा में सूजन-रोधी गुण भी होते हैं, जो गठिया से पीड़ित लोगों के लिए अत्यधिक लाभकारी हो सकता है।

इसके अलावा भी शरीफा से कई और औषधीय फायदे मिल सकते हैं जिन्हें हमने नीचे विस्तार से बताया हुआ है।

शरीफा (सीताफल) के पौष्टिक तत्व | Nutrients in Custard Apple (Sitafal)

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) कैलोरी में अपेक्षाकृत कम होता है, लेकिन इसमें उचित मात्रा में महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज होते हैं। 100 ग्राम शरीफा (कस्टर्ड सेब) में निम्नलिखित पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

  • कैलोरी – 101
  • कुल कार्बोहायड्रेट – 25.3g
  • आहार फाइबर – 2.4 ग्राम
  • कुल फैट – 0.60g
  • कोलेस्ट्रॉल – 0 mg
  • प्रोटीन – 1.70 ग्राम
  • विटामिन  C – 19.2 mg
  • विटामिन  A – 33 IU
  • पोटैशियम – 382 mg
  • मैग्नीशियम – 18 mg
  • फॉस्फोरस – 21 mg
  • कैल्शियम – 30 mg

(Source: USDA National Nutrient database)

चलिए अब शरीफा के फायदे और नुकसान के बारे में समझते हैं।

शरीफा (सीताफल) खाने के फायदे | Sharifa Ke Fayde | Custard Apple Benefits in Hindi

शरीफा खाने के फायदे और नुकसान

शरीफा के फायदे (Sharifa Benefits in Hindi) निम्नलिखित हैं-

एंटीऑक्सीडेंट भोजन – Sharifa Ke Fayde in Hindi

शरीफा (सीताफल) में पॉलीफेनोल्स (polyphenols) और कैरोटेनॉयड्स नामक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट कोशिकाओं को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करते हैं। (2)

इसके अलावा एंटीऑक्सीडेंट हृदय रोग और कुछ प्रकार के कैंसर की रोकथाम में भी फायदेमंद (Sharifa Benefits in Hindi) करते हैं।

कई प्रयोगशाला और जानवरों के अध्ययन में भी पाया गया है कि शरीफा में मौजूद शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण जोड़ों के दर्द या किसी अन्य बीमारी के विकास को कम करने में मदद कर सकते हैं, आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं और हृदय रोग और कुछ कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं। (3)

विटामिन सी का अच्छा स्रोत – Custard Apple (Sitafal) Benefits in Hindi

शरीफा विटामिन सी का अच्छा स्रोत है। शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) में मौजूद विटामिन सी, हड्डियों, मांसपेशियों, रक्त वाहिकाओं और दांतों के विकास के लिए फायदेमंद (Custard apple Benefits in Hindi) माना जाता है। (3)

इसके अलावा विटामिन सी इम्युनिटी बनाने में मदद करता है, आयरन के अवशोषण में को बढ़ावा देता है, और साथ ही कोलेजन को मजबूत करने में मदद करता है। (4)

कोलेजन ऊतक को स्वस्थ बनाए रखने के लिए आवश्यक है।

इसलिए शरीफा का रोजाना उपयोग स्वस्थ के लिए लाभदायक हो सकता है।

शरीफा (सीताफल) के फायदे हैं रक्तचाप कम करने में – Sharifa Ke Fayde for Blood Pressure in Hindi

उच्च रक्तचाप, हृदय रोग और स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ा सकता है।

शरीफा (सीताफल) में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में फायदेमंद (Sitafal Benefits in Hindi) होता है। (5 & 6)

पोटेशियम और मैग्नीशियम दोनों रक्त वाहिकाओं के फैलाव को बढ़ावा देते हैं जिससे उच्च रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

कस्टर्ड एप्पल खाने का फायदा है कब्ज दूर करने में – Sugar Apple Benefits for Strong Bones in Hindi

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) में सोल्युबल फाइबर मौजूद होते हैं। ये सोल्युबल फाइबर पानी को अवशोषित करने और मल को आपस में जोड़ने में मदद करते हैं। जिससे मल के वजन और आकार दोनों में बढ़ोतरी होती है, और साथ ही ये मल को नरम भी करता है। (7)

भारी और नरम मल आसानी से निकल जाता है, जिससे कब्ज और बवासीर की संभावना कम हो जाती है।

इसके अलावा, घुलनशील फाइबर आंत में अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देते हैं।

शरीफा (सीताफल) का फायदा है कैंसर के खतरे को कम करने में – Benefits of Custard Apple (Sitafal) for Cancer in Hindi

शोध से पता चलता है कि शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) के एंटीऑक्सीडेंट गुण स्वस्थ कोशिकाओं को प्रभावित किए बिना कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं के खिलाफ काम करते हैं। (8 & 9)

एक शोध  के अनुसार, जो लोग फ्लेवोनोइड्स से भरपूर आहार का सेवन करते हैं, उनमें कुछ प्रकार के कैंसर विकसित होने का जोखिम कम होता है – जैसे कि पेट और कोलन का कैंसर।

कस्टर्ड एप्पल (शरीफा) के फायदे हैं ह्रदय स्वास्थ के लिए – Sharifa Benefits for Heart Health in Hindi

शरीफा (सीताफल) में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।

खराब कोलेस्ट्रॉल और उच्च ट्राइग्लिसराइड, धमनियों में प्लाक का कारण बन सकता है। प्लाक के बनाने से धमनियों के संकुचन होने लगती हैं। जिससे ह्रदय में रक्त का प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता है। (10)

यदि इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाए, तो यह स्थिति दिल की विफलता, स्ट्रोक और दिल के दौरे का कारण बन सकती है।

शरीफा (सीताफल) के औषधि गुण हड्डियाँ बनाए मजबूत – Sitafal Benefits for Bone Health in Hindi

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) मैग्नीशियम का एक समृद्ध स्रोत हैं। मैग्नीशियम शरीर में पानी के संतुलन को बराबर करने में मदद करता है, और जोड़ों से एसिड को खत्म करता है।

यह अंततः गठिया और गठिया के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

विशेषज्ञों के अनुसार,  कैल्शियम और विटामिन K हड्डियों के अच्छे स्वास्थ को बनाए रखने में भी मदद करता है और ऑस्टियोपोरोसिस के खिलाफ एक संभावित सुरक्षा प्रदान करता है। (11)

वजन को नियंत्रित रखने में शरीफा का फायदा – Sharifa Ke Fayde for Weight Loss in Hindi

शरीफा (सीताफल) मोटापे को कम करने में मदद कर सकता है। दरअसल, शरीफा में काफी कम कैलोरी पाई जाती है। कैलोरी कम होने से वजन को नियंत्रित करने में फायदा मिलता है।

इसके अलावा शरीफा फाइबर से भरपूर होता है। फाइबर पेट को भरा रखता है, जिससे आप कम खाते हैं। नतीजतन, आपका अतिरिक्त वजन नहीं बढ़ता है, और आप अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचे रहते हैं।

रक्त शर्करा के स्तर को कंट्रोल करने में शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) का फायदा – Sugar Apple Benefits For Diabetes in Hindi

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) का सेवन टाइप 2 मधुमेह के कम जोखिम से जुड़ा है।

शरीफा में घुलनशील फाइबर होने के कारण इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) और ग्लाइसेमिक लोड (जीएल) दोनों ही कम होता है, जिसका अर्थ है शरीफा खाने से ब्लड शुगर की मात्रा तेजी से नहीं बढ़ेगीइसलिए शरीफा ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। (12)

इसके आलावा भी शरीफा  में मौजूद फाइबर आपके पेट को भरा हुआ रखते हैं, जिससे आप डायबिटीज में अतरिक्त खाने से बच जाते हैं।

शरीफा (सीताफल) खाने के फायदे सूजन से राहत दिलाने में – Sitafal Ke Fayde for Inflammation in Hindi

अगर आप आर्थराइटिस (गठिया) रोग से पीड़ित हैं तो शरीफा आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

शरीफा (सीताफल) में मौजूद एंटी-ऑक्सिडेंट (Anti-oxidant) गुण शरीर की सूजन को नियंत्रित करने में  मदद कर सकता है। (13 & 14)

इसके अलावा शरीफा में मौजूद ये गुण शरीर के दर्द, जोड़ों के दर्द, माइग्रेन में होने वाले सिर दर्द, सूजन, थकान, अपच और उल्टी से भी राहत दिलाने में मदद करता है।

शरीफा आंखों की रोशनी बढ़ाता है – Sitafal Ka Istemal for eyes in Hindi

बढ़ती उम्र के साथ आंखों की रोशनी कम होना एक आम समस्या है। इस समय जब हम स्क्रीन से चिपके रहते हैं, तो अपनी आंखों की अच्छी देखभाल करना जरूरी है।

शरीफा विटामिन सी और राइबोफ्लेविन का एक समृद्ध स्रोत है, जो स्वस्थ आंखों के लिए सबसे आवश्यक पोषक तत्व हैं। (15 & 16)

इनमें मौजूद आवश्यक पोषक तत्व आंखों को ठीक से काम करने और इन्हें सूखने से बचते हैं।

इसके अलावा, विटामिन सी और राइबोफ्लेविन कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने वाले मुक्त कणों से लड़ने में भी मदद करते हैं।

और पढ़ें – फ्लेक्सिटेरियन डायट : फायदे, नुकसान और डाइट प्लान।

प्रेगनेंसी में सीताफल खाने के फायदे – Benefits of sharifa in pregnancy in Hindi

गर्भावस्था में शरीफा (सीताफल) खाने के फायदे निम्नलिखित हैं। शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) में मौजूद- (17)

  • विटामिन बी6 मतली और मॉर्निंग सिकनेस को कम करता है।
  • पोटेशियम और मैग्नीशियम रक्तचाप को नियंत्रित करते हैं।
  • आहार फाइबर कब्ज और दस्त के खतरे को रोकता है।
  • मैग्नीशियम हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखता है और तनाव को कम करता है।
  • शरीफा भ्रूण के अंग के लिए पोषण प्रदान करता है
  • एंटीऑक्सिडेंट प्रतिरक्षा का निर्माण करते हैं।
  • कॉपर गर्भपात और समय से पहले प्रसव की संभावना को कम करने में मदद करता है।

शरीफा (सीताफल) खाने के नुकसान | Sharifa Ke Nuksan | Side Effects of Custard apple (Sitafal) in Hindi 

कस्टर्ड सेब (शरीफा) खाने के कई फायदे हैं, लेकिन इसके अधिक सेवन से शरीर में कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं।

शरीफा के कुछ प्रतिकूल प्रभाव (शरीफा के नुकसान) निम्नलिखित हैं। (18, 19, & 20)

  • शरीफा  के बीजों  में एनोनैसिन नामक विष होता है जो आपके तंत्रिका तंत्र और मस्तिष्क को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। इसलिए इसके बीजों के सेवन से बचना चाहिए।
  • शरीफा में अघुलनशील फाइबर भी पाए जाते हैं, जिसका अधिक सेवन दस्त, गैस, आंतों में जकड़न आदि का कारण बन सकता है।
  • जब आप फाइबर का सेवन बढ़ाते हैं, तो पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ पीना महत्वपूर्ण होता है। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो आपको कब्ज हो सकती है। इसलिए अपने आहार में शरीफा शामिल करते समय खूब पानी पीना सुनिश्चित करें।
  • इसके बीज और त्वचा के सेवन से पार्किंसन रोग का खतरा बढ़ सकता है क्योंकि इनमें एनोनासिन की मात्रा अधिक होती है।
  • शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) के बीज और त्वचा भी विषाक्त पदार्थों की उपस्थिति के कारण त्वचा की एलर्जी, लालिमा या आंखों को नुकसान पहुंचा सकती है।
  • कुछ लोगों को सीताफल का सेवन करने से एलर्जी हो सकती है। इसलिए ऐसे व्‍यक्तियों को सीताफल के सेवन से बचना चाहिए (Side Effects of Sharifa in Hindi)।
  • कस्टर्ड सेब आयरन और पोटैशियम का अच्छा स्रोत है। आयरन की अधिक मात्रा आंतों में अल्सर का कारण बन सकती है जबकि, पोटेशियम के अत्यधिक सेवन से विभिन्न प्रतिकूल प्रभाव हो सकते हैं। इन प्रभावों में धुंधली दृष्टि, चक्कर आना, मतली, बेहोशी या एकाग्रता की कमी शामिल है।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो सीताफल का सेवन करने से पहले आपने डॉक्‍टर से सलाह लें।

शरीफा (सीताफल) खाने का तरीका | How to eat Custard apple (Sitafal) in Hindi

आप पके हुए शरीफा (सीताफल) के अंदर की लुग्‍दी सीधे खा सकते हैं। इसके अलावा, आप इसका उपयोग विभिन्न स्वादिष्ट व्यंजन बनाने के लिए कर सकते हैं।

यहाँ शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) का सेवन करने के कुछ अन्य तरीके दिए गए हैं:

  • एक ब्लेंडर में शरीफा के साथ कुछ ताजे फल या सब्जियां, दही या दूध के साथ मिला कर खा सकते हैं।
  • आड़ू, केला, स्ट्रॉबेरी और आम जैसे मीठे फल शरीफा के साथ अच्छे लगते हैं।
  • आप कटे हुए कस्टर्ड सेब (शरीफा) को चिकन सलाद या वेजिटेरियन करी में मिला कर खा सकते हैं।
  • आप पके हुए शरीफा को मिल्कशेक बना के भी पी सकते हैं।

शरीफा (सीताफल) की तासीर कैसी होती है? | शरीफा ठंडा होता है या गरम?

शरीफा एक मौसमी फल (seasonal fruit) है जिसे सर्दीयों के मौसम में प्राप्‍त किया जाता है।

शरीफा की तासीर ठंडी होती है। आप इसे सर्दी और गर्मी दोनों मौसम में खा सकते हैं।

सीताफल (शरीफा) में कैल्शिम और फाइबर जैसे पोषक तत्व होते हैं जो आर्थराइटिस और कब्ज जैसी अनेक स्वास्थ सम्बन्धी समस्याओं से बचाने में मदद कर सकते हैं। साथ ही इसके पेड़ की छाल में टैनिन होता है जिसका इस्तेमाल दवाइयां बनाने में होता है।

सीताफल (शरीफा) कब खाना चाहिए? | When to Eat Custard Apple (Sitafal) in Hindi

पका हुआ सीताफल (शरीफा) आप अपनी आवश्यकता के अनुसार लें। शरीफा सुबह के नाश्ते में या शाम के नाश्ते में खाना ज्यादा बेहतर होता है।

निष्कर्ष | Conclusion

शरीफा (कस्टर्ड एप्पल) विटामिन, खनिज, फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट जैसे पोषक तत्वों का एक उत्कृष्ट स्रोत है। ये पोषक तत्व सेहत के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं, जो कई प्रकार की पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं।

शरीफा का स्वाद काफी बेहतरीन होता है और इसका उपयोग करना काफी सरल भी है।

शरीफा को आप नाश्ते के रूप में ओटमील के साथ मिला कर खा सकते हैं, या आप इसे पेय या स्मूदी के रूप  में भी ले सकते हैं।

हालांकि, शरीफा के बीज में एनोनैसिन नामक विष होता है जो आपके तंत्रिका तंत्र और मस्तिष्क को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। इसलिए शरीफा के बीज के सेवन से बचना चाहिए।


ये हैं शरीफा खाने के फायदे और नुकसान। कमेंट में बताएं आपको यह पोस्ट (sharifa ke fayde in Hindi) कैसी लगी। अगर आपको पोस्ट पसंद आई हो, तो इसे शेयर जरूर करें।

वेब पोस्ट गुरु ब्लॉग में आने और पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

Disclaimer : ऊपर दी गई जानकारी पूरी तरह से शैक्षणिक दृष्टिकोण से दी गई है। इस जानकारी का उपयोग किसी भी बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। इसके अलावा किसी भी चीज को अपनी डाइट में शामिल करने या हटाने से पहले किसी योग्य डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ (Dietitian) की सलाह जरूर लें। 

सन्दर्भ (References)

1. Kumar M, Changan S, Tomar M, et al. Custard Apple (Annona squamosa L.) Leaves: Nutritional Composition, Phytochemical Profile, and Health-Promoting Biological Activities. Biomolecules. 2021;11(5):614. Published 2021 Apr 21.

2. Pham-Huy LA, He H, Pham-Huy C. Free radicals, antioxidants in disease and health. Int J Biomed Sci. 2008;4(2):89-96.

3. Albuquerque TG, Santos F, Sanches-Silva A, Beatriz Oliveira M, Bento AC, Costa HS. Nutritional and phytochemical composition of Annona cherimola Mill. fruits and by-products: Potential health benefits. Food Chem. 2016 Feb 15;193:187-95.

4. Carr AC, Maggini S. Vitamin C and Immune Function. Nutrients. 2017;9(11):1211. Published 2017 Nov 3.

5. Houston MC, Harper KJ. Potassium, magnesium, and calcium: their role in both the cause and treatment of hypertension. J Clin Hypertens (Greenwich). 2008 Jul;10(7 Suppl 2):3-11.

6. Houston MC. The importance of potassium in managing hypertension. Curr Hypertens Rep. 2011 Aug;13(4):309-17.

7. Lever E, Cole J, Scott SM, Emery PW, Whelan K. Systematic review: the effect of prunes on gastrointestinal function. Aliment Pharmacol Ther. 2014 Oct;40(7):750-8.

8. Santos SA, Vilela C, Camacho JF, Cordeiro N, Gouveia M, Freire CS, Silvestre AJ. Profiling of lipophilic and phenolic phytochemicals of four cultivars from cherimoya (Annona cherimola Mill.). Food Chem. 2016 Nov 15;211:845-52.

9. Braicu C, Pilecki V, Balacescu O, Irimie A, Neagoe IB. The relationships between biological activities and structure of flavan-3-ols. Int J Mol Sci. 2011;12(12):9342-9353.

10. Linton MRF, Yancey PG, Davies SS, et al. The Role of Lipids and Lipoproteins in Atherosclerosis. [Updated 2019 Jan 3]. In: Feingold KR, Anawalt B, Boyce A, et al., editors. Endotext [Internet]. South Dartmouth (MA): MDText.com, Inc.; 2000-.

11. Maresz K. Proper Calcium Use: Vitamin K2 as a Promoter of Bone and Cardiovascular Health. Integr Med (Encinitas). 2015;14(1):34-39.

12. Kumar M, Changan S, Tomar M, et al. Custard Apple (Annona squamosa L.) Leaves: Nutritional Composition, Phytochemical Profile, and Health-Promoting Biological Activities. Biomolecules. 2021;11(5):614. Published 2021 Apr 21.

13. Santos SA, Vilela C, Camacho JF, Cordeiro N, Gouveia M, Freire CS, Silvestre AJ. Profiling of lipophilic and phenolic phytochemicals of four cultivars from cherimoya (Annona cherimola Mill.). Food Chem. 2016 Nov 15;211:845-52.

14. Guillopé R, Escobar-Khondiker M, Guérineau V, Laprévote O, Höglinger GU, Champy P. Kaurenoic acid from pulp of Annona cherimolia in regard to Annonaceae-induced Parkinsonism. Phytother Res. 2011 Dec;25(12):1861-4.

15. Albuquerque TG, Santos F, Sanches-Silva A, Beatriz Oliveira M, Bento AC, Costa HS. Nutritional and phytochemical composition of Annona cherimola Mill. fruits and by-products: Potential health benefits. Food Chem. 2016 Feb 15;193:187-95.

16. Abdel-Aal el-SM, Akhtar H, Zaheer K, Ali R. Dietary sources of lutein and zeaxanthin carotenoids and their role in eye health. Nutrients. 2013 Apr 9;5(4):1169-85.

17. SITAPHAL: UNEXPLORED THERAPEUTIC POTENTIAL
http://www.ajrcps.com/article/SITAPHAL%20UNEXPLORED%20THERAPEUTIC%20POTENTIAL.pdf

18. Abdul Wahab SM, Jantan I, Haque MA, Arshad L. Exploring the Leaves of Annona muricata L. as a Source of Potential Anti-inflammatory and Anticancer Agents. Front Pharmacol. 2018;9:661. Published 2018 Jun 20.

19. Potts LF, Luzzio FA, Smith SC, Hetman M, Champy P, Litvan I. Annonacin in Asimina triloba fruit: implication for neurotoxicity. Neurotoxicology. 2012 Jan;33(1):53-8.

20. Devi Nivean P, Malarkodi S, Nishanth M, Nivean M. Custard apple seed induced keratitis: a harmful traditional practice in South India. GMS Ophthalmol Cases. 2017;7:Doc23. Published 2017 Sep 1.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.