Low Cholesterol Diet: LDL कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल शरीर में पाया जाने वाला मोमी पदार्थ है, जो कोशिकाओं में जमा होकर रक्त के संचार को बाधित कर सकता है। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल खराब कोलेस्ट्रॉल के रूप में जाना जाता है जिसके अधिक होने से हार्ट अटैक या स्ट्रोक आने का खतरा बढ़ जाता है। जानकर एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकने के लिए दवाई ना लेकर पहले डाइट में बदलाव लाने की सलाह देते हैं। कुछ आहार ऐसे हैं जो हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम कर सकते हैं। इस पोस्ट में हम आपको Low Cholesterol Diet के बारे में बता रहे हैं, जिसमें आप जानेंगे कि एलडीएल कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए, ताकि खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से रोका जा सके।

Low Cholesterol Diet in Hindi
Image source freepik

 क्या हैं कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण? (Symptoms of High Cholesterol in Hindi)

सामान्यतः उच्च कोलेस्ट्रॉल के कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। केवल रक्त परीक्षण द्वारा ही पता लगाया जा सकता है की कोलेस्ट्रॉल  का स्तर उच्च है या नहीं। हालांकि, कभी कभी कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर आपको कुछ लक्षण जरूर महसूस हो सकते हैं, जैसे- 

  • सांस लेने में कठिनाई,
  • अधिक पसीना आना,
  • थकान लगना,
  • कमजोरी होना,
  • भूख न लगना आदि।

ब्लड में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण क्या हैं? (Causes of High Cholesterol in Blood in Hindi)

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का सबसे मुख्य कारण है डाइट में गलत आहार को लेना। उच्च संतृप्त वसा और ट्रांस वसा जैसे आहार खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करते हैं, साथ ही धूम्रपान और शराब का अत्यधिक सेवन भी एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का कारण बनता है।

आइए अब समझते हैं कि कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए ताकि आप अपने बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकें।

खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाएं? | What to Eat in Low cholesterol Diet in Hindi?

आप निम्नलिखित खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल कर एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोक सकते हैं। 
  • रोजहिप (गुलाब का फल),
  • नारियल तेल,
  • अखरोट,
  • आवला,
  • प्याज,
  • लाल खमीर चावल,
  • लहसुन,
  • ओमेगा 3 फैटी एसिड,
  • अलसी का तेल

1. रोजहिप (गुलाब का फल) – Eat Hawthorn when cholesterol increases in Hindi

Low Cholesterol Diet

गुलाब का फल (रोजहिप) खराब कोलेस्ट्रॉल कम करने और हृदय रोग से बचने के लिए खाया जा सकता है।

रोजहिप में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकते हैं, रक्तचाप को नियंत्रित कर सकते हैं और प्राकृतिक तरीके से शरीर से कोलेस्ट्रॉल और अतिरिक्त वसा को कम करने में भी मदद करते हैं। कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए आप रोजहिप चाय (Low Cholesterol Diet) पी सकते हैं। 

एक शोध में मोटापे से ग्रसित 31 लोगों को 40 ग्राम रोजहिप पाउडर 6 हफ्तों तक दिया गया। 6 हफ्तों तक सेवन करने के बाद इनके रक्तचाप और लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) कोलेस्ट्रॉल (खराब) के स्तर में काफी सुधार पाया गया।” 

2. नारियल तेल – Include coconut oil in LDL Cholesterol Diet in Hindi

नारियल के तेल में लोरिक एसिड (Lauric Acid) की मात्रा पाई जाती है जो खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने से रोकने में मदद कर सकता है।

एक शोध में पाया गया कि वर्जिन कोकोनट ऑयल लिपिड प्रोफाइल को ठीक करने में मदद कर सकता है। इसलिए नारियल के तेल का रोजाना इस्तेमाल करने से आप खराब कोलेस्ट्रॉल को कुछ हद तक नियंत्रित कर सकते हैं।”

3. अखरोट – Eat walnut in low cholesterol Diet in Hindi

अखरोट में कैल्शियम, मैग्नीशियम, ओमेगा-3, फाइबर, कॉपर और फॉस्फोरस जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। रोजाना सुबह अखरोट खाने से यह रक्तवाहनियों में कोलेस्ट्रॉल जमा नहीं होने देता है साथ ही अखरोट हमारे खराब कोलेस्ट्रॉल को वापस यकृत तक भेजने में मदद करता है। 

एक अध्ययन में पाया गया कि जिन लोगों ने रोजाना अखरोट का सेवन किया, उनके कुल और एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल के स्तर में महत्वपूर्ण सुधार देखा गया।”

4. आंवला – Eat amla in LDL cholesterol Diet in Hindi

आंवले में एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन-सी जैसे गुण पाए जाते हैं साथ ही आंवले में हाइपोलिपिडेमिक गुण भी होते हैं जो खराब कोलेस्ट्रॉल को तेजी से नियंत्रित करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद कर सकता है। 

“”एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) में प्रकाशित एक शोध में पाया गया कि जिन लोगों ने आंवले का सेवन रोजाना किया था  उनके  खराब कोलेस्ट्राॅल व टोटल कोलेस्ट्रॉल के स्तर में तेजी से कमी देखी गई।”

5. लाल प्याज – Eat red onion in low cholesterol in Hindi

प्याज में फ्लेवोनोइड्स पाया जाता है जिसमें हाइपोलिपिडेमिक और एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर सकता है। जानकर खराब कोलेस्ट्रॉल  कम करने के लिए लाल प्याज खाने की भी सलाह देते हैं। 

एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग अपने आहार में रोजाना प्याज का सेवन करते थे, उनमें कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल) या “खराब” कोलेस्ट्रॉल का स्तर प्याज ना खाने वाले लोगों की तुलना में कम था।”

6. लाल खमीर चावल – Eat Red yeast rice in high cholesterol in Hindi

Red yeast rice in high cholesterol in Hindi
Image source istock

लाल खमीर चावल एक पारंपरिक चाइनीस दवा के रूप में उपयोग में लाई जाती है। इसे यीस्ट के साथ लाल चावल की खेती करके बनाया जाता है।

लाल खमीर चावल का उपयोग (LDL Cholesterol Diet) खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए किया जाता है। इसमें पाए जाने वाला मोनाकोलिन K रक्त कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर सकता है।

एक शोध में देखा गया कि 2.4 ग्राम प्रति दिन लाल खमीर चावल का सेवन करने से मात्र 12 सप्ताह में एलडीएल का स्तर 22% और कुल कोलेस्ट्रॉल 16% कम हो गया था।” 

7. लहसुन – Eat garlic to lower LDL cholesterol in Hindi

लहसुन खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में काफी प्रभावी माना जाता है। इसके अलावा लहसुन रक्तचाप को कम करने और ह्रदय स्वस्थ को बनाए रखने में भी मदद करता है।

रोजाना लहसुन की दो कलियां छीलकर खाने से यह हाई कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम किया जा सकता है।

एक शोध में जब उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले पुरुषों को लहसुन के अर्क का सेवन करवाया गया तो उनके एलडीएल कोलेस्ट्रॉल में 10 प्रतिशत तक की कमी देखी गई।” 

8. ओमेगा 3 फैटी एसिड – Omega 3 fatty acid to decrease high cholesterol in Hindi

स्टडी से पता चलता है कि ओमेगा -3 फैटी एसिड ट्राइग्लिसराइड के स्तर को काफी कम कर सकता है और साथ ही ये उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एचडीएल, या “अच्छा”) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने नहीं देता है।

ओमेगा-3 का नियमित रूप से सेवन करने से ब्लड में ट्राइग्लिसराइड्स में लगभग 15-30% तक की कमी आ सकती है। इसके अलावा ओमेगा-3 फैटी एसिड हृदय को स्वस्थ रखने के लिए कई अन्य लाभों से जुड़ा हुआ है। जिसमें

  • ओमेगा 3 उच्च रक्तचाप वाले लोगों में रक्तचाप के स्तर को कम कर सकता है।
  • ओमेगा 3 “अच्छे” एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा सकता है।
  • ओमेगा 3 दिल-दिमाग में ब्लड क्लॉट नहीं बनने देता।
  • ओमेगा 3 शरीर की सूजन कम करता है।
  • ओमेगा 3 असामान्य हृदय गति की संभावना को कम करता है।

9. अलसी का तेल – Flax seed oil to lower high cholesterol in Hindi

अलसी के तेल में अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (ALA) का उच्च स्तर होता है। यह एक ओमेगा -3 फैटी एसिड है जो कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोक सकता है और हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता है।

अध्ययनों से पता चलता है कि अलसी खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में हमारी मदद कर सकता है, खासकर उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर वाले लोगों में।

“एक अध्ययन के अनुसार, प्रतिदिन 4 बड़े चम्मच (30 ग्राम) पिसे हुए अलसी खाने से एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल के स्तर में 15% की कमी आती है।” 

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या न खाएं | What to Avoid in High Cholesterol in Hindi

Food to Avoid in High Cholesterol in Hindi
Image source freepik

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या न खाएं? या कोलेस्ट्रॉल में क्या परहेज करें? ये प्रश्न हमारे मन में आते हैं। इसलिए यदि आप हाई कोलेस्ट्रॉल से परेशान है तो निम्नलिखित चीजों का परहेज करके हाई कोलेस्ट्रॉल से बचा जा सकता है। 

खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर नमक कम खाएं – Consume less salt when bad cholesterol increases in Hindi

 नमक से भरपूर भोजन रक्त वाहिकाओं और धमनियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ा सकता है। जिसके परिणामस्वरूप रक्तचाप में अस्थायी वृद्धि हो सकती है जो हृदय रोग और समय से पहले मृत्यु का कारण बन सकता है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (एएचए) के अनुसार ह्रदय रोगियों को प्रति दिन 2.5 ग्राम से अधिक सोडियम का सेवन नहीं करना चाहिए। इसलिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन ना करें जिनमें नमक की मात्रा ज्यादा होती है।

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर संतृप्त वसा ना खाएं – Avoid saturated fat in high cholesterol in Hindi

शरीर को सैचुरेटेड फैटी एसिड (संतृप्त वसा) की जरूरत होती है, लेकिन इसका जरुरत से ज्यादा सेवन करना स्वास्थ के लिए हानिकारक भी हो सकता है विशेष रूप से यदि आप की आयु 40 से अधिक हो। सैचुरेटेड फैटी एसिड वाले खाद्य पदार्थों में शामिल हैं:
  • पिज्जा, बर्गर, चीज, मेयोनीज, केक जैसे फूड आइटम्स,
  • कुछ मांस जैसे बीफ, मेमने का मांस और पोर्क,
  • प्रोसेस्ड मीट,
  • वसायुक्त दूध,
  • मलाई,
  • आइसक्रीम,
  • सफेद ब्रेड,
  • पास्ता
  • साबुत दूध और पनीर।

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर ट्रांस वसा खाने से बचें  – Avoid trans fat in high ldl cholesterol in Hindi

उच्च कोलेस्ट्रॉल में ट्रांस वसा का परहेज करना चाहिए। भोजन के जरिये ज्यादा ट्रांस वसा खाने से यह आपके खराब कोलेस्ट्रॉल को बड़ा सकता है। जिन खाद्य पदार्थों में ट्रांस वसा ज्यादा हो सकता है उनमें शामिल हैं:
  • मक्खन
  • कुकीज़
  • केक
  • फ्रेंच फ्राइज़
  • चिप्स
  • डोनट्स

उच्च कोलेस्ट्रॉल होने पर अधिक चीनी का सेवन ना करें – Consume less sugar in bad cholesterol in Hindi

अधिक मीठे आहार शरीर में ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को बढ़ा सकते हैं। ट्राइग्लिसराइड्स का उच्च स्तर होने से हृदय रोग का खतरा बढ़ सकता है। इसके अलावा चीनी की अधिक मात्रा एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के उच्च स्तर का कारण बन सकता है।

एलडीएल – जिसे आमतौर पर “खराब कोलेस्ट्रॉल” कहा जाता है, हृदय की धमनी के ब्लॉक होने का कारण बन सकता है।

अधिक चीनी वाले खाद्य पदार्थों में शामिल हैं –

  • सोडा (Soda),
  • कैंडी (Candy),
  • स्पोर्ट्स ड्रिंक (Sports drink),
  • कुकीज (Cookies),
  • पेस्ट्री (Pastry),
  • बहुत मीठा दही (Sweet yogurt),
  • आइसक्रीम (Ice Cream),
  • सॉफ्ट ड्रिंक्स (Soft drinks)।
  • बिस्कुट (Biscuits),
  • केक (Cake)

कोलेस्ट्रॉल अधिक होने पर धूम्रपान ना करें – Do not smoke in high cholesterol in Hindi

धूम्रपान करने से रक्त वाहिकाओं को नुकसान पंहुचा सकता है, जिससे धमनियां सख्त होने लगती है और यह हृदय रोग के जोखिम को बढ़ा सकती है। इसलिए हाई कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों को धूम्रपान ना करने की सलाह दी जाती है।

और पढ़ें – जानिए ऐसे आहार, जो करें इम्यून सिस्टम कमजोर

खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर अधिक शराब ना पियें – Consume less alcohol in high cholesterol in Hindi

शराब (अल्कोहल) का अधिक सेवन शरीर में अतिरिक्त कैलोरी बढ़ा सकता है, जिससे आपका वजन बढ़ सकता है। वजन के बढ़ने से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल (खराब कोलेस्ट्रॉल) का स्तर बढ़ता है और एचडीएल (अच्छा कोलेस्ट्रॉल) के स्तर में कमी हो सकती है। साथ ही अल्कोहल का सेवन हृदय की बीमारियों का खतरा भी बढ़ा सकता है।

कौन सी है कोलेस्ट्रॉल कम करने की अंग्रेजी दवा? | Medicine for Cholesterol in Hindi

यदि किसी व्यक्ति का कोलेस्ट्रॉल स्तर उच्च है और वह घरेलू उपयों द्वारा भी नियंत्रित नहीं हो रहा है तो इस स्थिति में डॉक्टर स्टैटिन जैसी  दवाएं  शुरू कर सकते हैं।

ये दवाएं कोलेस्ट्रॉल कम करके स्ट्रोक या दिल के दौरे के जोखिम को कम कर सकती हैं।

इसके अलावा कोलेस्टारामिन और एवोलोक्यूमैब इंजेक्शन भी कोलेस्ट्रॉल के इलाज के लिए दी जाने वाली दवाइयों में से एक हैं। 

कोलेस्ट्रॉल के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल | Cholesterol FAQ in Hindi

Q. एच डी एल कोलेस्ट्रॉल क्या है?

Ans. एच डी एल को हाई डेंसिटी लेपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है जोकि एक अच्छा कोलेस्ट्रॉल माना जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह आपके रक्त से ‘खराब’ कोलेस्ट्रॉल को वापस लीवर में भेजता है जहां लीवर इसे तोड़ देता है ताकि इसे शरीर से बाहर निकाला जा सके।

Q. कोलेस्ट्रॉल की आयुर्वेदिक दवा क्या है?

Ans. त्रिफला और अर्जुन की छाल का चूर्ण कोलेस्ट्रॉल को कम करने की आयुर्वेदिक दवा है। अलसी के बीज पानी के साथ पीसकर उसे खाली पेट लेंने से यह उच्च कॉलेस्ट्रॉल के लक्षणों को कम करता है। मेदोहर वटी व नवक गुगल वटी गुनगुने पानी से लेंने से कोलेस्ट्रॉल में लाभ मिलता है। कच्चा लहसुन और प्याज रक्त में उच्च कोलेस्ट्रॉल के प्रभाव को पूरी तरह से नियंत्रित करते हैं। त्रिकटु कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है।

Q. कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए योग कौन सा है?

Ans. कपालभाति, चक्रासन, शलभासन, सर्वांगासन, पशिमोत्तानासन, अर्ध मत्स्येन्द्रासन आदि योग कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करते हैं।

Q. कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से क्या दिक्कत होती है?

Ans. उच्च कोलेस्ट्रॉल हृदय रोग के जोखिमों को बड़ा सकता है। इसके अलावा स्ट्रोक, दिल का दौरा, एनजाइना (सीने में दर्द), उच्च रक्त चाप, गुर्दे की बीमारी आदि की समस्या पैदा कर सकता है।

Q. क्या कोलेस्ट्रॉल में दही खा सकते हैं?

Ans. दही खाने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर स्वस्थ बना रहता है,  दही बीपी को कम करने और वजन घटाने में काफी फायदेमंद माना जाता  है।

Q. क्या दूध पीने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है?

Ans. शोध के अनुसार, कम फैट वाला दूध (सोया मिल्क) पीने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर स्वस्थ बना रहता है।

Q. क्या चावल खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है?

Ans. ब्राउन राइस कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने नहीं देता है। इसलिए रोजाना ब्राउन राइस खाने से यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को स्वस्थ बनाए रखता है।

Q. क्या चाय पीने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है?

Ans. शोध के अनुसार आयुर्वेदिक चाय (हर्बल टी) कोलेस्ट्रॉल के स्तर को घटाने में कारगर है। हर्बल टी में शामिल हैं-

गुड़हल की हर्बल चाय, पुदीने की हर्बल चाय, सौंफ की चाय, दालचीनी की चाय और गुलाब के डंठल की चाय (रोजहिप टी) इनमें मौजूद एंटी-ओबेसोजेनिक (Anti-obesogenic) और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण, प्राकृतिक रूप से कैलोरी को जलाने और मेटाबॉलिज्म दर को बढ़ाने में मदद करता है जिससे वजन धीरे-धीरे कम होता है और  कोलेस्ट्रॉल की समस्या दूर होती है।

Q. कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज क्या है?

Ans. कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज है सेहत मंद डाइट को अपनाना। जिसमें आप निम्नलिखित चीजों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। 

जैसे आवला, प्याज, लहसुन , ओमेगा 3 फैटी एसिड, अलसी का तेल, रोजहिप (गुलाब का फल), लाल खमीर चावल और नारियल तेल। साथ ही कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर संतृप्त वसा का सेवन कम करें, ट्रांस  वसा ना खाएं, अधिक चीनी वाले खाद्य पदार्थों से बचें, धूम्रपान ना करें, अधिक शराब ना पियें।

Q. उच्च कोलेस्ट्रॉल में कौन सी दाल खानी चाहिए?

Ans. मूंग की दाल, उड़द की दाल, राजमा, चने की दाल, अरहर की दाल, मटर, काबुली चना, काला चना, मसूर की दाल आदि कोलेस्ट्रॉल में फायदे मंद होती हैं।

Q. हाई कोलेस्ट्रॉल कम करने की कौन सी दवा है?

Ans. कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए स्टैटिन जैसी दवाएं शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा कोलेस्टारामिन और एवोलोक्यूमैब इंजेक्शन भी कोलेस्ट्रॉल के इलाज के लिए दी जाने वाली दवाइयों में से एक हैं।

Q. HDL कोलेस्ट्रॉल कितना होना चाहिए?

Ans. HDL कोलेस्ट्रॉल 40mg/dL या इससे अधिक होना चाहिए।

Q. क्या कोलेस्ट्रॉल में दही खा सकते हैं?

Ans. कोलेस्ट्रॉल में दही खा सकते हैं। दही कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने, बीपी को कंट्रोल करने और वजन घटाने में काफी फायदेमंद होता है।

Q. क्या बादाम खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है?

Ans. बादाम में मोनोसैचुरेटेड फैट्स मौजूद होता है जिससे भूख कम लगती है और पेट भर हुआ रहता है। पेट भर हुआ होने से अतरिक्त खाना नहीं कहते और जिससे हमारा वजन नहीं बढ़ता है।

नियमित रूप से बादाम खाने से दिल हेल्दी रहता है और खराब कोलेस्ट्रॉल में कमी आती है और अच्छा कोलेस्ट्रॉल में बढ़ोतरी होती  है।

Q. खैनी खाने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है या घटती है?

Ans. तम्बाकू रक्त वाहिकाओं को नुकसान पंहुचा सकता है, जिससे धमनियां सख्त होने लगती है और यह हृदय रोग के जोखिम को बढ़ा सकती है।

Q. बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल में मुनक्का खाने चाहिए या नहीं?

Ans. वजन कम करने में मुनक्का काफी कारगर है। खाली पेट भीगे हुए मुनक्का खाने से वजन को कम किया जा सकता है। वजन कम होने से  कोलेस्ट्रॉल की समस्या नहीं रहती है या कभी हद तक कम हो सकती है।

Q. कोलेस्ट्रॉल अगर बढ़ा है तो शराब पी सकते हैं?

Ans. शराब का अधिक सेवन अतिरिक्त कैलोरी बढ़ा सकती है, जिससे वजन बढ़ सकता है।  वजन बढ़ने से एलडीएल का स्तर अधिक हो सकता है और एचडीएल का कम। साथ ही अल्कोहल का सेवन हृदय की बीमारियों का खतरा भी बढ़ा सकता है।

इसलिए कोलेस्ट्रॉल की समस्या है तो शराब का सेवन डॉक्टर के अनुसार बताई हुई मात्रा के अनुसार करें।

निष्कर्ष | Conclusion

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है, जो दिल और संचार संबंधी बीमारियों जैसे दिल का दौरा और स्ट्रोक के खतरे को बढ़ा सकती है।

हालांकि, उच्च कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित व्यक्ति घरेलू उपायों द्वारा आसानी से उच्च कोलेस्ट्रॉल की समस्या का निवारण कर सकते हैं जिसमें विशेष रूप से स्वस्थ आहार लेना और नियमित रूप से व्यायाम करना शामिल हैं। फिर भी यदि खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर नीचे नहीं आ रहा हो तो डॉक्टर कुछ दवाइयों द्वारा इस रोग का निवारण आसानी से कर सकते हैं।  

ये हैं कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए की पूरी जानकारी। कमेंट में बताएं आपको Low Cholesterol Diet in Hindi पोस्ट कैसी लगी। अगर आपको पोस्ट पसंद आई हो, तो इसे शेयर जरूर करें।

वेब पोस्ट गुरु ब्लॉग में आने और पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

Disclaimer : ऊपर दी गई जानकारी पूरी तरह से शैक्षणिक दृष्टिकोण से दी गई है। इस जानकारी का उपयोग किसी भी बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। इसके अलावा किसी भी चीज को अपनी डाइट में शामिल करने या हटाने से पहले किसी योग्य डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ (Dietitian) की सलाह जरूर लें।  

सन्दर्भ (References)

  • Rosenthal RL. Effectiveness of altering serum cholesterol levels without drugs. Proc (Bayl Univ Med Cent). 2000 Oct;13(4):351-5. doi: 10.1080/08998280.2000.11927704. PMID: 16389340; PMCID: PMC1312230.
  • Schoeneck M, Iggman D. The effects of foods on LDL cholesterol levels: A systematic review of the accumulated evidence from systematic reviews and meta-analyses of randomized controlled trials. Nutr Metab Cardiovasc Dis. 2021 May 6;31(5):1325-1338. doi: 10.1016/j.numecd.2020.12.032. Epub 2021 Jan 16. PMID: 33762150.
  • Bruckert E, Rosenbaum D. Lowering LDL-cholesterol through diet: potential role in the statin era. Curr Opin Lipidol. 2011 Feb;22(1):43-8. doi: 10.1097/MOL.0b013e328340b8e7. PMID: 21233620.

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -spot_img

Latest Articles