Figs During Pregnancy | गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे और नुकसान

प्रेगनेंसी में खून की कमी और कमजोरी आम है। इसलिए सही और संतुलित पोषक तत्वों को अपने आहार में शामिल करना मां और शिशु दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। अधिकतर गर्भवती महिलाओं के मन में अंजीर के सेवन को लेकर संदेह बना रहता है कि क्या प्रेगनेंसी में अंजीर खाना चाहिए या नहीं?। इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे और नुकसान (Benefits and side effects of Figs During pregnancy in Hindi) के बारे में बता रहे है। साथ ही –

  • प्रेग्नेंसी में अंजीर कैसे खाए? (Pregnancy me Anjeer kaise khaye)
  • गर्भावस्था  में अंजीर कितने खाने चाहिए? और
  • गर्भावस्था  में अंजीर कब खाना चाहिए?

आदि के बारे में भी बता रहे हैं। तो आइये अब इस पोस्ट को शुरू करते हैं।

Figs during pregnancy in Hindi

अंजीर क्या है? (Figs in Hindi)

अंजीर एक पौष्टिक फल है जिसमें भरपूर मात्रा में आयरन होता है। इसके अलावा अंजीर में खनिज पदार्थ, शुगर, फैट और कैल्शियम भी मौजूद रहते हैं। अंजीर को फल के रूप में या सूखा के दोनों तरीको से खाया जा सकता है।

क्या गर्भावस्था में अंजीर खाना सुरक्षित है? (Is It Safe To Eat Dry Fruits During Pregnancy?)

गर्भावस्‍था में महिलाओं के मन में यह सवाल रहता है कि क्या गर्भावस्था में अंजीर खाना सुरक्षित है?। इसका जवाब है हां, गर्भावस्था में सीमित मात्रा में अंजीर खाया जा सकता है। जो मां और शिशु दोनों के लिए फायदेमंद है।

हालांकि, यदि आपको मधुमेह या इससे अलेर्जी है तो अंजीर का सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है। इसलिए अंजीर खाने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

चलिए अब समझते हैं गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे और नुकसान (anjeer ke fayde aur nuksan) क्या हो सकते हैं।

और पढ़ें – जानिए गर्भावस्था की 8 प्रमुख समस्याएं और समाधान।

गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे (Benefits of Figs During pregnancy in Hindi)

अंजीर के फायदे और नुकसान Figs Benefits in Pregnancy
<span style=font family Mukta>Image source pixabaycom<span>

यदि गर्भावस्था के दौरान अंजीर का सेवन किया जाए तो गर्भवती महिलाओं को इसके कई फायदे मिल सकते हैं। गर्भावस्था में अंजीर के फायदे (anjeer ke fayde) निम्नलिखित हो सकते हैं-

1. प्रेगनेंसी में अंजीर के फायदे खून बढ़ाने में (Benefits of figs in pregnancy to increase blood in Hindi)

गर्भावस्था के दौरान खून की कमी हो सकती है। अगर यह समस्या गर्भवती महिलाओं को हो जाए तो इससे मां और बच्चे दोनों की जान का खतरा बढ़ सकता है। खून की कमी आयरन की कमी के कारण होती है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं की डाइट में भरपूर आयरन होना चाहिए।

गर्भावस्था में अंजीर खाना फायदेमंद (अंजीर के फायदे इन हिंदी) हो सकता है। अंजीर के अंदर आयरन पाया जाता है। आयरन ब्लड सेल्स को बनाकर हीमोग्लोबिन के स्तर को बेहतर करता है। साथ ही इसमें विटामिन-सी भी होता है, जो आयरन को शरीर में अवशोषित करने में सहायता करता है।

ध्यान रहे ,यदि आप आयरन सुप्प्लिमेंट ले रहीं हैं तो डॉक्टर के अनुसार यह सुप्प्लिमेंट लेते रहें। अंजीर लेने पर आयरन सुप्प्लिमेंट बंद ना करें। इसलिए डॉक्टर का परामर्श जरूरी है।

और पढ़ें – आयरन की कमी को दूर करते हैं ऐसे आहार।

2. गर्भावस्था में अंजीर खाने के फायदे रक्तचाप कम करने में (Benefits of eating figs in pregnancy to lower blood pressure in Hindi)

गर्भावस्‍था में अंजीर खाने का फायदा उच्च रक्तचाप को कम करने में किया जा सकता है। शोध के अनुसार, अंजीर में मौजूद फिनोल, फ्लेवोनॉइड्स और पोटैशियम जैसे तत्व पोषक तत्व रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

गर्भावस्‍था में ब्लड प्रेशर बढ़ना काफी आम है। इसलिए, यदि नियमित रूप से अंजीर का सेवन किया जाए तो अंजीर का सेवन प्रेगनेंसी में आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित कर सकता है।

और पढ़ें – प्रेगनेंसी में पौष्टिक आहार, जानें पूरा डाइट चार्ट

3. गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे कब्ज दूर करने में (Eating figs during pregnancy helps to reduce constipation in Hindi)

अंजीर को कब्ज जैसी पाचन समस्याओं के वैकल्पिक उपचार के रूप में भी उपयोग किया जा सकता है। गर्भावस्था के दौरान बदलते हार्मोंस, कब्ज की समय कर सकते हैं। इससे राहत पाने में अंजीर का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता हैं। दरअसल, अंजीर में फाइबर की मात्रा भरपूर होती है, जो प्रेगनेंसी में होने वाले कब्ज की परेशानी को कम कर सकती है। इसी करण से गर्भवतियों को फाइबर युक्त आहार लेने की सलाह दी जाती है।

और पढ़ें- ये हैं कब्ज के लिए उच्च फाइबर फल

4. गर्भावस्था के दौरान अंजीर के फायदे दिल को स्वस्थ बनाए रखने में (Benefits of figs during pregnancy to keep the heart healthy in Hindi)

प्रेगनेंसी में अंजीर रक्तचाप और रक्त वसा के स्तर में सुधार कर सकता है साथ ही हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा यह कुल कोलेस्ट्रॉल, एचडीएल (अच्छा) कोलेस्ट्रॉल, और ट्राइग्लिसराइड के स्तर में भी सुधार कर सकता है।

और पढ़ें –  महीने दर महीने गर्भावस्था की महत्वपूर्ण जानकारी।

5. गर्भावस्था में अंजीर के लाभ मॉर्निंग सिकनेस दूर करने में (Figs Benefits during  pregnancy  to reduce  morning  sickness  in Hindi)

प्रेगनेंसी में अंजीर के फायदे मॉर्निंग सिकनेस को कम करने में मदद करता है। रिसर्च के अनुसार मॉर्निंग सिकनेस या मतली को कम करने में विटामिन-बी6 मदद कर सकता है। वहीं, अंजीर में भी विटामिन-बी6 होता है। इसी कारण माना जाता है कि मॉर्निंग सिकनेस से राहत दिलाने में अंजीर मदद कर सकता है।

और पढ़ें –  Amniotic Fluid की कमी या अधिकता के लक्षण, कारण और इलाज।

6. गर्भकालीन मधुमेह को रोकने के लिए अंजीर के फायदे (Benefits of figs to prevent gestational diabetes in Hindi)

गर्भावधि मधुमेह या गर्भावस्था में डायबीटीज़ एक प्रकार का मधुमेह है जो गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को प्रभावित करता है। मधुमेह एक ऐसी स्थिति है जहां खून में ग्लूकोज (चीनी) की मात्रा बहुत अधिक होती है।

इससे बचाव में अंजीर मदद कर सकता है। इसमें कार्बोहाइड्रेड, मिनरल्स, फाइबर और विटामिन होते हैं, जिस कारण गर्भावधि मधुमेह की डाइट में अंजीर को शामिल करने की सलाह दी जाती है। अंजीर के अर्क में एंटीडायबिटिक एक्टीविटी होती है, जो ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित कर सकता है।

हालांकि, प्रेगनेंसी में अंजीर के अर्क का सेवन करना चाहिए या नहीं इसके लिए आप अपने डॉक्टर से पूछ लें।

और पढ़ें –  जानिए प्रसव पीड़ा के प्रारंभिक लक्षण क्या हैं, और कब दिखते हैं।

प्रेगनेंसी में अंजीर कैसे खाएं (How to Eat Figs During Pregnancy Hindi)

प्रेगनेंसी में अंजीर खाने के कई तरीके हैं, जिनमें से दो मुख्य तरीके हैं –

1. ताजा अंजीर का सेवन – Fresh figs during pregnancy

ताज़े अंजीर में कैलोरी की मात्रा कम होती है जिसे फल के रूप में खाया जा सकता है। आप अंजीर का जैम भी बना सकते है,ओट्स या दलिया बनाते समय अंजीर डालकर खा सकते हैं या ताज़े अंजीर को फ्रूट सलाद में मिक्स करके प्रेगनेंसी के दौरान खा सकते हैं।

2. सूखे अंजीर का सेवन – Dry figs during pregnancy

प्रेगनेंसी में सूखा अंजीर कब्ज के इलाज में अधिक प्रभावी होता है। आप स्‍नैक के रूप में भी अंजीर खा सकती हैं। सूखे अंजीर को पानी में भिगोकर भी खाया जा सकता है। सूखे अंजीर में चीनी और कैलोरी की मात्रा अधिक होती है, इसलिए प्रेगनेंसी में इन्हें कम मात्रा में खाना चाहिए।

और पढ़ें- भीगी किशमिश खाने के फायदे और नुकसान

अंजीर कितने खाने चाहिए प्रेगनेंसी में? (How much Figs Should be Eaten in Hindi)

गर्भावस्‍था के दौरान अंजीर खाना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। हालांकि, अंजीर की तासीर गर्म होती है और अधिक मात्रा में खाने से ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। इसलिए गर्भवती महिलाऐं एक दिन में 2 से ज्यादा अंजीर ना खाएं।

ध्यान दें – यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रही हैं जैसे ब्लड शुगर या आपको किसी चीज से एलर्जी है, तो डॉक्टर की सलाह पर ही अंजीर का सेवन करना चाहिए।

और पढ़ें – सूखे आलूबुखारा (सूखे पल्म) के फायदे और नुकसान 

अंजीर कब खाना चाहिए प्रेगनेंसी में? (When to eat figs in Hindi)

अंजीर में विटामिन ए, विटामिन बी, प्रोटीन, फाइबर के साथ-साथ एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा भी काफी अच्छी होती है। ये सभी प्रकार के पोषक तत्व हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते है। सूखे अंजीर या भीगे हुए अंजीर खाने का सबसे अच्छा समय सुबह माना जाता है। ऐसे में सुबह खाली पेट अंजीर का सेवन कर सकते हैं। जबकि, ताजा अंजीर दिन में या शाम को खाया जा सकता है।

और पढ़ें – प्रेगनेंसी के दौरान ऐसे करें अपनी देखभाल, होगा स्वस्थ शिशु।

गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के नुकसान (Side Effects of Figs During Pregnancy in Hindi)

प्रेगनेंसी में अंजीर खाने के फायदे के साथ साथ नुकसान भी हो सकते हैं। जी हां, यदि इसकी मात्रा अधिक ली जाए तो। गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के नुकसान () निम्लिखित हो सकते हैं।

  • अंजीर से आपको एलर्जी हो सकती है। ऐसे में संवेदनशील लोगों को इनके सेवन से बचना चाहिए।
  • अंजीर हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित कर सकता है। ऐसे में लो ब्लड प्रेशर और ब्लड प्रेशर की दवाई का सेवन करने वाली महिलाएं डॉक्टर की सलाह केअनुसार ही अंजीर  खाएं
  • कभी कभी अंजीर का अधिक सेवन करने से माइग्रेन होने का खतरा हो सकता है।
  • अंजीर के अधिक सेवन से दस्त या अन्य पाचन समस्याएं हो सकती हैं
  • यह ब्लड ग्लूकोज को कम कर सकता है, इसलिए कम ब्लड शुगर वाले लोग सावधानी से इसका सेवन करें।
  • अंजीर विटामिन K से भरपूर होते हैं, जो रक्त को पतला करने वाली दवाओं में हस्तक्षेप कर सकते हैं और उन्हें कम प्रभावी बना सकते हैं।

और पढ़ें – जानिए प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाना चाहिए।

अंजीर से जुड़ी सावधानियां | Precautions while Consuming Figs in Hindi

  • अंजीर प्राकृतिक रूप से मीठी होती है। ऐसे में उसके सेवन के दौरान किसी अन्य मिठास को ना जोड़ें।
  • अंजीर का सेवन कारण से पहले पानी से धो लें।
  • बासी अंजीर को अपनी डाइट में शामिल ना करें। पुरानी अंजीर में अक्सर कीड़े पड़ जाते हैं।
  • अंजीर के सेवन से एलर्जी महसूस होती है तो तुरंत उसे अपनी डाइट से निकाल दें और डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें –  प्रेग्नेंसी के 8 आवश्यक पोषक तत्व और उनसे जुड़ी सावधानियां।


ये हैं गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे और नुकसान (Benefits and side effects of Figs During pregnancy in Hindi) की पूरी जानकारी। कमेंट में बताएं आपको यह पोस्ट कैसी लगी। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इस पोस्ट को शेयर जरूर करें।

वेब पोस्ट गुरु ब्लॉग में आने और पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

Disclaimer : ऊपर दी गई जानकारी पूरी तरह से शैक्षणिक दृष्टिकोण से दी गई है। इस जानकारी का उपयोग किसी भी बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। इसके अलावा किसी भी चीज को अपनी डाइट में शामिल करने या हटाने से पहले किसी योग्य डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ (Dietitian) की सलाह जरूर लें।

संदर्भ (References)

1. All You Need to Know About Figs
https://www.healthline.com/nutrition/figs-benefits

2. The benefits of fig for pregnant women
https://mutiarafigs.com.my/the-benefits-of-fog-for-pregnant-women

3. What Are the Benefits of Eating Figs?
https://www.medicinenet.com/what_are_the_benefits_of_eating_figs/article.htm

4. Consuming Figs (Anjeer) During Pregnancy
https://parenting.firstcry.com/articles/eating-figs-anjeer-during-pregnancy-health-benefits-and-risks/

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -spot_img

Latest Articles